तुम इस तरह मिले

फूलों ने पूछा क्या हुआ है
मैंने कहा कँवल खिला है

तितलियों ने पूछा क्या हुआ है
मैंने कहा इन्द्रधनुष बना है

सितारों ने पूछा क्या हुआ है
मैंने कहा दिल रोशन हुआ है

चाँद ने पूछा क्या हुआ है
मैंने कहा तू ही तो मिला है!

खुदा ने पूछा क्या चाहिए तुम्हे
तो मैंने कहा सब कुछ तो मिला है!!!

(Genuinely Uttam’s )